vasudev devnani

शिक्षा राज्‍य मंत्री वासुदेव देवनानी ने दसवीं ओपन बोर्ड के उत्‍साहजनक परिणामों को देखते हुए अगले साल से ओपन बोर्ड में सर्वोच्‍च अंक लाने वाले छात्र और छात्रा को 21 हजार रुपए का मीरा व एकलव्‍य पुरस्‍कार देने की घोषणा की है। इस वर्ष तक इस पुरस्‍कार की राशि 11 हजार रुपए है।

राजस्थान में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड दसवीं के परीक्षा परिणाम के बाद बुधवार को राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल की 10 वीं का परीक्षा परिणाम घोषित हुआ। शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने बुधवार को शिक्षा संकुल स्थित सभागार में राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल जयपुर की मार्चमई 2018 की कक्षा 10वीं का परीक्षा परिणाम कम्प्यूटर का बटन दबाकर घोषित किया।

परीक्षा में कुल 66 हजार 580 अभ्यर्थी बैठे थे। इनमें में 30 हजार 849 महिला तथा 35 हजार 731 पुरुष अभ्यर्थी थे। उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 28 हजार 24 तथा आंशिक उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 38 हजार 556 है। कुल परीक्षा परिणाम 42.09 प्रतिशत रहा। इनमें महिलाओं का 47.49 तथा पुरुषों का 37.43 प्रतिशत परीक्षा परिणाम रहा है। इस वर्ष पुरुषों की तुलना में महिला परीक्षार्थियों का परिणाम 10.06 प्रतिशत अधिक रहा है।

इस बार परीक्षा में पुरुष परीक्षार्थियों का परीक्षा परिणाम गत वर्ष की तुलना में 3.03 प्रतिशत व महिला परीक्षार्थियों का 5.28 प्रतिशत अधिक रहा है तथा समेकित परीक्षा परिणाम गत वर्ष की तुलना में 3.93 प्रतिशत अधिक रहा है।

सावित्री को मीरा और और भागीरथ सिंह को एकलव्य पुरस्कार

देवनानी ने परीक्षा में 500 में से 420 अंक प्राप्त कर महिलाओं में सर्वोच्च स्थान पर रहने वाली सावित्री लोधा को मीरा तथा पुरुषों में 500 में से 400 अंक प्राप्त कर सर्वोच्च स्थान पर रहने पर भागीरथ सिंह को एकलव्य पुरस्कार प्रदान किए जाने की घोषणा की। प्रत्येक को प्रशस्ति-पत्र एवं 11,000 रूपये की राशि दी जायेगी। शिक्षा राज्‍यमंत्री ने भागीरथ सिंह और सावित्री लोधा को परीक्षा परिणाम स्थल से ही व्यक्तिशः फोन कर बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

SHARE