Rajasthan Shiksha Exclusive news

14 हजार शिक्षक, 1200 शिक्षा अधिकारी, 4.5 हजार पीटीआई मिलेंगे

बीकानेर। अगले सत्र तक राजस्‍थान शिक्षा विभाग (Education Department) में 21 हजार 600 भर्तियां (Jobs) करने के लिए पूरी क्षमता से तैयारियां चल रही हैं। माध्‍यमिक शिक्षा निदेशालय 1200 प्रधानाध्‍यापक के लिए राजस्‍थान लोक सेवा आयोग को अनुशंसा भेज चुका है। लेक्‍चरर और वरिष्‍ठ अध्‍यापक के लिए डाटा कलेक्‍शन का काम अंतिम चरण में है।

निदेशालय सूत्रों के अनुसार प्रत्‍येक विद्यालय में वरिष्‍ठ अध्‍यापकों और व्‍याख्‍यता की आवश्‍यकता के लिए पूरे प्रदेश से डाटा कंपाइल किए जा रहे हैं। यह सूचनाएं निदेशालय पहुंचने के बाद उन्‍हें राजस्‍थान लोक सेवा आयोग को भेजा जाएगा। विभाग में में फिलहाल 5000 व्‍याख्‍याताओं और 9000 वरिष्‍ठ अध्‍यापकों की नियुक्ति की जानी है।

इसके साथ ही विभाग में 4500 तृतीय श्रेणी शारीरिक शिक्षकों की भर्ती के लिए माध्‍यमिक शिक्षा निदेशालय में अधीनस्‍थ चयन बोर्ड को अनुशंसा भेज दी है। शिक्षकों की भर्ती जहां राजस्‍थान लोक सेवा आयोग के माध्‍यम से की जा रही है, वहीं शारीरिक शिक्षकों, प्रयोगशाला सहायकों और पुस्‍तकालयाध्‍यक्षों के चयन के लिए अधीनस्‍थ बोर्ड को अनुशंसा भेजी जा रही है।

निदेशालय 1200 तृतीय श्रेणी प्रयोगशाला सहायकों और 700 तृतीय श्रेणी पुस्‍तकालयाध्‍यक्षों की भर्ती के लिए भी अधीनस्‍थ चयन बोर्ड को अनुशंसा भेज चुका है।

राज्‍य सरकार इस चुनावी वर्ष में तेजी से नौकरियां देने का मानस बनाए हुए हैं। सूत्रों के अनुसार 31 मार्च तक शिक्षा विभाग से संबंधित सभी पदों के लिए संबंधित विभागों को अनुशंसा भेज दी जाएगी, इसके बाद संभवत: अप्रेल माह के मध्‍य तक अधीनस्‍थ चयन बोर्ड और आरपीएससी नौकरियों के लिए विज्ञापन जारी कर देगा। जून के मध्‍य तक परीक्षाएं और जुलाई तक सभी चयनितों को पदस्‍थापन देने का प्रयास किया जा रहा है।

इसके लिए बाकायदा कार्ययोजना तैयार की गई है। अगर परीक्षा सही सही होती है और कोई मामला अदालत में नहीं पहुंचता है तो शिक्षा विभाग को करीब 20 हजार अधिक शिक्षक-शिक्षाधिकारी और करीब दो हजार प्रयोगशाला सहायक तथा पुस्‍तकालयाध्‍यक्ष मिल जाएंगे।

SHARE