SHIVIRA Shiksha Vibhag Rajasthan
SHIVIRA Shiksha Vibhag Rajasthan

मेन एग्जाम से गणित हटाया

अजमेर। राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली राजस्थान राज्य एवं अधीनस्थ सेवाएं संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा 2018 यानी RAS 2018 का पाठ्यक्रम शुक्रवार शाम को आयोग की वेबसाइटwww.rpsc.rajasthan.gov.in पर जारी कर दिया गया। अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए आयोग ने प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा दोनों की ही पाठ्यक्रम हिंदी और अंग्रेजी माध्यमों में जारी किए हैं। प्रारंभिक परीक्षा में एक पेपर होगा जबकि मुख्य परीक्षा में 4 पेपर होंगे आयोग ने सभी पेपरों के विस्तृत विवरण भी जारी किए हैं।

प्रारंभिक परीक्षा का 200 अंकों का होगा पेपर

-आयोग सचिव गिरिराज सिंह कुशवाहा के अनुसार आर ए एस प्रारंभिक परीक्षा 2018 में सामान्य ज्ञान एवं सामान्य विज्ञान का पेपर होगा 200 अंकों के इस पेपर के हल करने के लिए 3 घंटे का समय दिया जाएगा इस पेपर में वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न पूछे जाएंगे। परीक्षा का उद्देश्य केवल स्क्रीनिंग परीक्षण करना है प्रश्न पत्र का स्तर स्नातक डिग्री स्तर का होगा इस पेपर में डेढ़ सौ प्रश्न होंगे सभी प्रश्न समान अंक के होंगे प्रश्न पत्र में नेगेटिव मार्किंग होगी और प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1 बटा 3 अंक काटा जाएगा।

मुख्य परीक्षा मैं 4 पेपर होंगे

RAS मुख्य परीक्षा में 4 पेपर होंगे पहला पेपर सामान्य अध्ययन प्रथम होगा 200 अंक के इस प्रश्न पत्र को हल करने के लिए 3 घंटे का समय दिया जाएगा। दूसरा पेपर सामान्य अध्ययन सेकंड कहलायेगा यह भी 200 अंकों का होगा और 3 घंटे का समय हल करने के लिए दिया जाएगा। तीसरा पेपर सामान्य अध्ययन तृतीय होगा 221 प्रश्न पत्र को भी हल करने के लिए 3 घंटे का समय दिया जाएगा। चौथा प्रश्न पत्र सामान्य हिंदी एवं सामान्य अंग्रेजी का होगा यह भी 200 अंकों का होगा और 3 घंटे इसे हल करने के लिए दिया जाएगा। मुख्य परीक्षा में वर्णात्मक और विश्लेषणात्मक प्रश्न पूछे जाएंगे आयोग सचिव कुशवाहा ने बताया की चारों पेपरों के विस्तृत पाठ्यक्रम वेबसाइट पर उपलब्ध कराया गया है।

इस बार पाठ्यक्रम पहले

आयोग द्वारा RAS 2018 के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया गुरुवार से ही शुरू की गई है। 11 मई 2018 तक इस भर्ती के लिए आवेदन किए जा सकेंगे। आयोग ने इस बार अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए पाठ्यक्रम समय से पहले ही जारी कर दिया है। अभ्यर्थियों ने आयोग के इस फैसले का स्वागत किया है।

SHARE