कोहरे ने छुड़ाए पसीने, नौनिहालों पर सर्दी की मार

IMD weather forecast

कोहरे ने छुड़ाए पसीने, नौनिहालों पर सर्दी की मार

बीकानेर। केन्‍द्र सरकार से संबंधित स्‍कूलों में जहां 12 जनवरी तक के अवकाश पहले से ही घोषित हैं, वहीं राजस्‍थान के प्राथमिक और माध्‍यमिक शिक्षा के स्‍कूल सोमवार को खुल जाएंगे, इस बीच मौसम ने बुरी तरह अपना रुख बदला है और राज्‍य का अधिकांश हिस्‍सा कोहरे से ढका हुआ है। जहां उत्‍तरप्रदेश और राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में ठण्‍ड के मद्देनजर सोमवार को अवकाश कर दिया गया है, वहीं राजस्‍थान में इस मौसम को प्रशासन सामान्‍य मान रहा है।

हालांकि राज्‍य के अधिकांश हिस्‍सों में सोमवार को न्‍यूनतम तापमान 5 से 6 डिग्री और अधिकतम तापमान 23 डिग्री तक बताया जा रहा है, लेकिन कोहरे और धुंध के असर ने नौनिहालों के साथ अभिभावकों के भी पसीने छुड़ा रखे हैं।

मौसम चक्र में यह आंशिक परिवर्तन करीब एक दशक से आ रहा है, पूर्व में जहां इसाइयों के त्‍योहार क्रिसमस के आस पास सर्दियों का जोर परवान पर होता था और नया साल शुरू होते होते सर्दी की मार बहुत हद तक कम हो जाती थी, वहीं अल निनो और अल निना के मौसमी विक्षोभों के बाद सर्दी का असर कुछ दिन आगे खिसक गया है।

करीब पांच छह वर्ष पूर्व सर्दी के दिनों की इस खिसकन को ध्‍यान में रखकर शिविरा पांचांग में भी इस बाबत संशोधन कर सर्दी की छुट्टियों का समय एक से सात जनवरी करने का निर्णय किया गया था, लेकिन बाद में अपुष्‍ट दबावों के चलते इस निर्णय को वापस ले लिया गया था।

हाल के वर्षों में यह देखने में आया है कि साल के अंत में सर्दी का जोर अधिक रहने के बजाय नए साल के पहले सप्‍ताह के अंत में सर्दी का जोर अधिक रहने लगा है। इन दिनों तो सर्दी से अधिक कोहरे और धुंध ने आतंक मचाया हुआ है।

कुछ अभिभावकों को यह चिंता है कि बच्‍चों को स्‍कूल तक ले जाने वाली स्‍कूल बसों, ऑटो और मिन बसों के मुंह अंधेरे चलने पर किसी प्रकार की दुर्घटना इस कोहरे की मार से हो सकती है। राज्‍य के अधिकांश हिस्‍सों में रविवार का अधिकांश दिन कोहरे की भेंट चढ़ गया। सूर्यदेव के दर्शन नहीं होने से शाम तक सर्दी की मार बहुत बढ़ गई थी।

इसी के साथ उत्‍तरी सर्द हवाओं की गति भी अधिक बनी हुई है। रविवार रात 9 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से उत्‍तरी पूर्वी हवाएं चल रही थी। सर्दी के साथ हवाओं का यह बहाव खुले में तापमान को दो तीन डिग्री और अधिक गिरा देता है और feels like यानी महसूस होने वाली सर्दी की मार भी बढ़ जाती है।

कुछ अभिभावकों ने रविवार देर शाम तक जिला स्‍तर पर प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा सोमवार को स्‍कूल लगाए जाने के निर्णय का विरोध भी किया है, संभवत: सोमवार सुबह इस संबंध में कुछ ठोस निर्णय हो पाए। इस बीच कोहरे के बीच दौड़ते स्‍कूली वाहनों के दुर्घटनाग्रस्‍त होने का खतरा तो बना ही हुआ है।