बांसवाड़ा : पंचायत सहायक भर्ती टली

Shiksha vibhag rajasthan education news

बाहरी आवेदकों का विरोध, विद्यार्थी मित्रों से मारपीट पुलिस बुलानी पड़ी, पंचायत सहायक भर्ती टली

बांसवाड़ा। जिले में चयन से बची 196 ग्राम पंचायतों में मंगलवार को पंचायत सहायक भर्ती प्रक्रिया शुरू होते ही कई जगह जमकर हंगामा हुआ। स्थानीय लोगों ने बाहरी आवेदकों का विरोध करते हुए 12 से 15 पंचायतों में बवाल किया। गमाना हमीरा और बोड़िगामा गांवों में विद्यार्थी मित्रों से मारपीट तक हो गई। इसे लेकर एक एफआईआर सल्लोपाट थाने में दर्ज भी हुई है।

इसके अलावा खेड़ावड़लीपाड़ा, टामटिया राठौड़, खुंदणीहाला, मलवासा, बोरतालाब, रतनपुरा, नई पाटन, पाड़ीकला, नवागांव, गणाऊ, गोपीनाथ का गढ़ा में एसडीएमसी तक बाहरी आवेदकों को पहुंचने ही नहीं दिया गया। झेर मोटी, रोहनवाड़ी अौर सुंद्राव में भी पीईओ और चयन समिति के सदस्यों के खिलाफ लोग मुखर हुए। कुछ जगह अशांति बढ़ने की आशंका पर पुलिस बुलाकर काम करना पड़ा।

हालांकि दोपहर बाद इस चयन प्रक्रिया को लेकर हाईकोर्ट का अंतरिम आदेश गया। इसका आशय समझ से परे होने से जिन पंचायतों में चयन हो गया, उनके लिफाफे भी शाम को डीईईओ प्रारंभिक कार्यालय में नहीं लिए गए। इस बारे में जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक प्रेमजी पाटीदार ने बताया कि सुबह से जिले में आवेदन ही लिए गए थे, तभी प्रारंभिक शिक्षा विभाग के शासन उप सचिव की ओर से निदेशक प्राथमिक शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा को भेजे पत्र की प्रति के साथ हाईकोर्ट का आदेश मिला। शासन उप सचिव ने कोर्ट की अंतरिम आदेश की पालना के आदेश दिए। इस पर प्रक्रिया स्थगित कर दी गई।

इस बारे में आदेश की मूल प्रति सभी बीईईओ को भेजकर निर्देश दिए गए। इस बीच, विवाद की सूचनाएं भी आईं। इस पर स्थानीय पुलिस से मदद लेने को कहा गया। शाम को कुछ पीईओ की ओर से लिफाफे गए, जिन्हें अधिकारियों से मार्गदर्शन मिलने तक अपनी कस्टडी में ही रखने को कहा गया।