बस किराया : दूर से स्कूल आने वाली छात्राओं को

Shiksha vibhag rajasthan education news

बस किराया : दूर से स्कूल आने वाली छात्राओं को

कोटपूतली। ग्रामीणक्षेत्रों में स्कूलों की दूरी ज्यादा होने के कारण पढाई से वंचित रहने वाली छात्राओं को राज्य सरकार अब ट्रांसपोर्ट वाउचर देगी। जिससे कि वो बसो में निशुल्क यात्रा कर स्कूल जा सके। निदेशालय ने विभाग से ऐसी छात्राओं की सूची मांगी है। जो स्कूल दूर होने के कारण पढाई छोड़ चुकी है। कक्षा 6 से 8 वी में 2 किलोमीटर और 9 से 12 वीं में 5 किलोमीटर दूर से स्कूल आने वाली छात्राओं को इस योजना का लाभ मिलेगा। यह दूरी घर से स्कूल तक की मानी जाएगी। कक्षा 9 में प्रवेश के दौरान साई किल योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा। छात्राएं दोनों में से किसी एक योजना का ही लाभ ले सकेंगी।

संस्था प्रधान को करना होगा आवेदन

ट्रांसपोर्टवाउचर योजना का लाभ लेने के लिए छात्राओं को आवेदन भर कर संस्था प्रधान को देना होगा। योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों में पढ़ने वाली पात्र छात्राओं को रोजाना स्कूल आने जाने के लिए किराए के रूप में 20 रुपए दिए जाने का प्रावधान है। यह राशि छात्रा की स्कूल में उपस्थिति के आधार पर तय होगी।

एकल छात्रा को हर माह एकमुश्त राशि दी जाएगी। बालिकाओं को सरकारी स्कूल से जोडने के लिए सरकार ने स्कूल में वांछित विषय संकाय नहीं होने पर निकटतम शहरी स्कूल में जाने के लिए भी ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना में शामिल करने के निर्देश दिए है। इस संबंध में बीईईओ ब्रजभूषण कौशिक का कहना है कि ऐसी छात्राओं की सूची तैयार की जा रही ताकि उन्हें ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना का लाभ दिलाया जा सके।

छात्राओं की उपस्थिति के आधार पर तय होगी राशि

गांव से आने वाली बालिकाओं को पहले राज्य सरकार की और से स्कूल आने के लिए साइकिलें उपलब्ध कराई जाती थी, लेकिन अब उनको स्कूल तक पहुंचने का ट्रांसपोर्ट वाउचर भी मिलेगा। लेकिन छात्राएं दोनों मे से किसी एक का ही लाभ ले सकेंगी।