30 कॉलेजों के लिए केन्‍द्र से मांगे 156 करोड़

kiran maheshwari Minister of higher education rajasthan and prakash javdekar MHRD

30 कॉलेजों के लिए केन्‍द्र से मांगे 156 करोड़

राजस्थान की उच्च शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी ने नई दिल्ली में केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर से भेंट कर राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रूसा) के अन्तर्गत राज्य के 30 उपखण्ड़ मुख्यालयों पर मॉडल कॉलेजों को  खोेलने के लिए 156 करोड़ रुपये की केन्द्रीय सहायता दिलवाने का आग्रह किया है।

श्रीमती माहेश्वरी बुधवार को नई दिल्ली में श्री जावड़ेकर से उनके कुशक रोड़ स्थित राजकीय निवास पर भेंट कर अवगत करवाया कि राज्य के इन तीस उपखण्ड़ मुख्यालयों पर कोई सरकारी अथवा निजी महाविद्यालय नहीं है। जिसके कारण क्षेत्रीय विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा के लिए अन्यत्र जाना पड़ता है।

उन्होंने श्री जावड़ेकर से आग्रह किया कि 30 मॉडल कॉलेज के लिए प्रति कॉलेज 5.20 करोड़ रुपये की स्वीकृति प्रदान की जाए। ट्रिपल आई.टी.आई. कोटा के लिए 128 करोड़ रूपये दिलवाने का आग्रह भेंट के दौरान श्रीमती माहेश्वरी ने केन्द्रीय मंत्री से कोटा में स्वीकृत ट्रिपल आई.टी.आई. के भवन निर्माण के लिए 128 करोड़ रुपये स्वीकृत करवाने का आग्रह भी किया।

श्रीमती माहेश्वरी ने राज्य में चल रहे आठ इंजीनियरिंग कॉलेज में गुणवत्ता एवं तकनिकी शिक्षा में बढ़ोत्तरी के लिए ’रूसा‘ के तहत् केन्द्रीय मदद उपलब्ध करवाने का आग्रह भी किया। उन्होेंने बताया कि पश्चिम राजस्थान के बाड़मेर में इंजीनियरिंग कॉलेज के लिए राज्य सरकार ने 25 बीघा जमीन का आवंटन कर दिया है। इसके भवन निर्माण के लिए ‘रूसा’ के अन्तर्गत 26 करोड़ रुपये की जरूरत है, जिसकी स्वीकृति शीघ्र दिलवाई जाए।

गोविंद गुरू जनजाति विश्वविद्यालय, बांसवाड़ा के लिए मदद

श्रीमती माहेश्वरी ने गोविंद गुरू जनजाति विश्वविद्यालय, बांसवाड़ा के लिए विशेष केन्द्रीय सहायता दिलवाने का आग्रह करते हुए श्री जावड़ेकर से अनुरोध किया कि राज्य के किशनगढ़ (अजमेर) में संचालित केन्द्रीय विश्वविद्यालय के अलावा एक और केन्द्रीय विश्वविद्यालय को स्वीकृति दी जाए।

उन्होंने बताया कि क्षेत्रफल की दृष्टि से देश के सबसे बड़े प्रदेश में इसकी महती जरूरत है। यू.जी.सी. में लंबित राशि दिलवायें उन्होंने केन्द्रीय मंत्री को बताया कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यू.जी.सी.) में राज्य सरकार के 130 करोड़ रूपये की राशि लंबित है।

इसी प्रकार कोटा विश्वविद्यालय के भी 4.80 करोड़ रुपये यू.जी.सी. में बकाया है। इस राशि को शीघ्र जारी करवाया जाए। श्रीमती माहेश्वरी ने श्री जावड़ेकर को राज्य सरकार के तीन वर्ष पूर्ण होने पर प्रकाशित साहित्य भी भेंट किया। बैठक में राज्य के कॉलेज शिक्षा आयुक्त श्री आशुतोष एटी. पणेण्डकर भी उपस्थित थे।

बार कोसिंल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष से भेंट

12 विधि महाविद्यालयों को सम्बद्धता दिलवायें श्रीमती माहेश्वरी ने बाद में बार कोसिंल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष श्री मनन कुमार मिश्रा से भेंट की और ज्ञापन सोंप कर उनसे आग्रह किया कि राज्य के 12 विधि महाविद्यालयों को शीघ्र ही बार कोसिंल ऑफ इंडिया (बी.सी.आई.) से सम्बद्धता दिलवाये। इसके अभाव में इन लॉ-कॉलेजों में विद्यार्थियों का प्रवेश नहीं हो पा रहा है।