आखिर स्कूल को घटानी पड़ी फीस

छाया में खड़ी करवाने लगे बस, अन्य सुविधाएं भी बढ़ाई

स्कूल प्रबंधन ने मानी अभिभावकों की मांग

राजसमंद। निजी स्कूलों की मनमानी पर मुहिम रंग लाने लगी है। जिसके चलते शहर के एक निजी स्कूल ने एकमुश्त फीस जमा करने पर पांच फीसदी राशि कम की है। शहर के एक निजी स्कूल ने शनिवार को अभिभावकों की बैठक बुलाई, इसमें उन्होंने अभिभावकों की कई शर्तों को माना तथा व्यवस्थाओं में बदलाव भी शुरू कर दिया। शहर में संचालित एक निजी स्कूल के अभिभावकों ने कमेटी बनाई तथा स्कूल प्रबंधन से मनमानी पर अंकुश लगाने के लिए एकजुट होकर हुंकार भरी। इसके तहत स्कूल प्रबंधन ने उनकी बातें मानी। अभिभावक राकेश लड्डा, मनीष पामेचा, डूंगरसिंह पंवार आदि ने बताया कि स्कूल प्रबंधन शहर के रीको एरिया में मार्बल गैंगसा एसोसिएशन कार्यालय के पास संचालित एक निजी स्कूल प्रबंधन ने शनिवार को अभिभावकों की बैठक बुलाई। इस दौरान उन्होंने बसों को छाया में खड़ी करवाने, स्कूल में विद्यार्थियों के लिए कई नई एक्टीविटी चालू करवाने, स्वीमिंग और खेल संबंधी समस्याओं को सुधारने की बात कही।

एकमुश्त फीस जमा करवाने पर 10 फीसदी की छूट

लड्ढा ने बताया कि स्कूल प्रबंधन ने सालभर की फीस एक मुश्त जमा करवाने पर १० फीसदी की छूट जारी की है। यह फीस अभिभावक १० मई तक जमा करवा सकते हैं। अभीतक यह छूट महज ५ फीसदी की थी। निजी स्कूल ने अभिभावकों की और कई मांगे मानी है, कुछ अगले वर्ष से अमल में लाई जाएंगी।

कक्षा 5वीं के ऑनलाइन सत्रांक प्रविष्टि का अंतिम दिन

नाथद्वारा। जिला स्तरीय प्राथमिक शिक्षा अधिगम स्तर मूल्यांकन में पोर्टल पर स्कूल स्तर से ऑनलाइन सत्रांक प्रविष्टि सोमवार तक होगी। जिला शिक्षा और प्रशिक्षण संस्थान के प्रधानाचार्य सोहनलाल रेगर ने बताया कि जिला स्तरीय प्राथमिक शिक्षा अधिगम स्तर मूल्यांकन की वर्तमान में शाला दर्शन, शाला दर्पण और प्राइवेट स्कूल पोर्टल पर स्कूल स्तर से ऑनलाइन सत्रांक प्रविष्टि का काम प्रक्रियाधीन है। ऑनलाइन सत्रांक प्रविष्टि के काम संपादन के बाद ही परीक्षा परिणाम के लिए डाइट को एक्सल शीट में सत्रांक डाउनलोड कर सकने की सू विधा उपलब्ध करवाई जाएगी। ऑनलाइन सत्रांक प्रविष्टि के लिए तीनों पोर्टल पर संबंधित लिंक 23 अप्रैल सोमवार तक खुली रहेगी।