राजस्थान के सभी स्कूलों की होगी ग्रेडिंग, जानें पेरेंट्स को कैसे होगा इससे फायदा

राजस्थान के सभी स्कूलों की होगी ग्रेडिंग, जानें पेरेंट्स को कैसे होगा इससे फायदा
राजस्थान के सभी स्कूलों की होगी ग्रेडिंग, जानें पेरेंट्स को कैसे होगा इससे फायदा

राजस्थान के सभी स्कूलों की होगी ग्रेडिंग, जानें पेरेंट्स को कैसे होगा इससे फायदा


जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के सरकारी स्कूलों की मॉनिटरिंग अब मोबाइल ऐप के जरिए की जाएगी. शिक्षा विभाग की ओर से स्कूलों की मॉनिटरिंग (School Grading System in Rajasthan) के लिए शाला संबलन ऐप तैयार किया है. शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा (Education Minister Govind Singh Dotasara) ने बुधवार को शिक्षा संकुल से इस एप को लांच किया. कार्यक्रम में शिक्षा विभाग के तमाम अधिकारी मौजूद रहे. इस दौरान शिक्षा मंत्री ने कहा कि लोगों में सरकारी स्कूलों के प्रति विश्वास बढ़ा रहा है. इस ऐप के जरिए स्कूलों के कार्यों का फीडबैक मिलेगा. स्कूलों की कमियों के बारे में जानकारी मिलेगी जिन्हें तेज गति से दूर किया जा सकता है. मंत्री ने बताया कि शिक्षा के क्षेत्र मे अभी तक राजस्थान का दूसरा स्थान है, लेकिन इस बार के राष्ट्रिय सर्वे में पहले पायदान पर आने की कोशिश करेगा.

शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि नंबर वन आने के लिए विभाग पूरी तरह से लगा हुआ है.  नवंबर में जो सर्वे किया जाएगा उसके लिए विभाग के अधिकारी कर्मचारियों को ट्रेनिंग दे रहे है. प्रदेश में महात्मा गांधी स्कूलों की अच्छी प्रतिक्रिया आ रही है. इस साल प्रदेश में 348 अंग्रेजी माध्यम स्कूल खुले उनमें प्रवेश के लिए सिफारिशें आ रही है. 600 स्कूलों में कृषि संकाय खोले है.  इस तरह राजस्थान को स्कूल शिक्षा में प्रथम स्थान पर लाने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे है.

शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने दिए अहम निर्देश

शिक्षा मंत्री ने बुधवार को अधिकारियों को निर्देश जारी करते हुए कहा है कि अब प्रदेश के सभी सरकारी और निजी स्कूलों की ग्रेडिंग तैयार कराई जाए. इससे हर स्कूल का स्तर पता चल सकेगा. जिस निजी स्कूल से सरकारी बेहतर है, उस स्कूल का लाभ आरटीआई में आम अभिभावक को मिल सके. इसके लिए जल्द कवायद शुरू करने की बात शिक्षा मंत्री ने कही. इसी के साथ शिक्षा मंत्री ने कहा कि मौजूदा समय में सरकारी स्कूलों के नामाकंन में तीन लाख का आंकड़ा बढ़ा है, जो पांच लाख तक जाएगा. जबकि प्राइमरी कक्षाओं के स्कूल शुरू करने पर कहा कि इसे लेकर भी जल्द फैसला लिया जाएगा.राजस्थान के शिक्षा विभाग में कई नवाचार किए जा रहे हैं जिसे लेकर विभाग उत्साहित है. इन नवाचारों का अभिभावकों ने भी स्वागत किया है. इनमें अंग्रेजी स्कूलों पर फोकस करके सरकारी शिक्षा में नई पहल की गई है. आने वाले दिनों में अब शिक्षा विभाग राज्य में निजी प्री प्राइमरी स्कूलों की तरह सरकारी प्री प्राइमरी स्कूल भी खोलने जा रहा है जिसे लेकर भी कवायद की जा रही है.