CBSE: अंग्रेजी और संस्कृत विषयों को लेकर सीबीएसई ने किए बदलाव

CBSE: अंग्रेजी और संस्कृत विषयों को लेकर सीबीएसई ने किए बदलाव
CBSE: अंग्रेजी और संस्कृत विषयों को लेकर सीबीएसई ने किए बदलाव

CBSE: अंग्रेजी और संस्कृत विषयों को लेकर सीबीएसई ने किए बदलाव


केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, सीबीएसई (Central Board of Secondary Education, CBSE) आने वाले एकेडमिक सेशन से इंग्लिश और संस्कृत के दो लेवल पेश करने वाला है. साथ ही शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी बयान में ये भी कहा गया कि सीबीएसई साल 2021 से इंप्रूवमेंट परीक्षा को भी शुरू करने वाला है. अभी तक गणित और हिंदी के लिए ऐसी व्यवस्था है. बोर्ड परीक्षा में क्षमता से संबंधित प्रश्नों को भी शामिल किया गया था.

बता दें कि शिक्षा में सुधार राष्ट्रीय शिक्षा नीति का एक अभिन्न अंग है. शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग ने भी इस मामले में कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. हाल के रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रीय शिक्षा नीति के ज्यादातर फीचर्स एनसीएफ (नेशनल करीकुलम एंड फ्रेमवर्क) के अंतर्गत कवर होंगे और स्कीम को सेंट्रल गवर्नमेंट के अंतर्गत स्पॉन्सर किया जाएगा. एनसीएफ को लागू करने का काम शुरू हो चुका है और एकेडमिक सेशन 2020-21 में और भी ज्यादा बढ़ाया जाएगा.

इसके अलावा सोमवार को छात्रों से बात करते हुए केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा जेईई और नीट परीक्षा देने वाले छात्रों को परीक्षा में ज्यादा प्रश्नों की च्वाइस मिलेगी इससे सिलेबस घटने के बावजूद भी उनका नुकसान नहीं होगा. शिक्षा मंत्री ने कहा कि छात्रों को चिंता करने की जरूरत नहीं है क्योंकि इस संबंध में सारी बातों को ध्यान में रखा जाएगा.