महाराष्ट्र शिक्षा बोर्ड: 10वीं और 12वीं की परीक्षा 2021 में

महाराष्ट्र शिक्षा बोर्ड: 10वीं और 12वीं की परीक्षा 2021 में
महाराष्ट्र शिक्षा बोर्ड: 10वीं और 12वीं की परीक्षा 2021 में

महाराष्ट्र शिक्षा बोर्ड: 10वीं और 12वीं की परीक्षा 2021 में

नई दिल्ली. महाराष्ट्र की स्कूली शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने शुक्रवार को कहा कि 10वीं और 12वीं कक्षाओं की परीक्षाएं कोरोनावायरस महामारी की मौजूदा स्थिति के कारण मई 2021 से पहले नहीं होंगी. उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘कोरोना वायरस महामारी की स्थिति लंबी चलने की आशंका है. हमने सिलेबस पूरा कराने और परीक्षा कराने के मुद्दे पर चर्चा की है.”

 पाठ्यक्रम के कम से 25 प्रतिशत में कटौती करनी होगी
गायकवाड़ ने कहा कि ‘महाराष्ट्र राज्य माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड’ मई से पहले 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षा आयोजित नहीं कर पाएगा. उन्होंने कहा, ‘‘मैंने इस मुद्दे पर भी चर्चा की है कि कितना पाठ्यक्रम छोड़ा जा सकता है ताकि शिक्षक शेष हिस्से को पूरा कर सकें. हमें पाठ्यक्रम के कम से 25 प्रतिशत में कटौती करनी होगी.”

प्रथम और द्वितीय वर्ष के छात्रों को बिना परीक्षाओं के पास करने का फैसला
बता दें कि मई में महाराष्ट्र की उद्धव सरकार (Government of Maharashtra) ने राज्य के सभी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के प्रथम और द्वितीय वर्ष के छात्रों को बिना परीक्षाओं के पास करने का फैसला लिया था. सरकार ने कोरोना महामारी से महाराष्ट्र के बिगड़ते हालात को देखते हुए यह निर्णय लिया था.

सिर्फ तृतीय वर्ष के छात्रों के लिए परीक्षा
इस फैसलें में कहा गया था कि विश्वविद्यालय और कॉलेज सिर्फ तृतीय वर्ष के छात्रों की ही परीक्षा कराएंगे. प्रथम और द्वितीय वर्ष के छात्रों को बिना परीक्षा के पास किया जाएगा. सूबे के सभी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के अंतिम वर्ष के छात्रों को छोड़कर सभी छात्रों को बिना परीक्षा के ही अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा.