अब किताबें पढकऱ शिक्षक सीखेंगे बच्चों को पढ़ाने की कला

SHIVIRA Shiksha Vibhag Rajasthan
SHIVIRA Shiksha Vibhag Rajasthan

मार्गदर्शिका से शिक्षक सीखेंगे शिक्षण की कला

बांसवाड़ा। विद्यालय में शिक्षण की नई तकनीकी को सिखाने के लिए राज्य सरकार और शिक्षा विभाग लाखों रुपए व्यय कर मार्गदर्शिका के माध्यम से शिक्षकों को मार्गदर्शन देंगे। इसके लिए शिक्षकों के लिए कक्षा छह से आठ तक के बच्चों को सरल और सहज ढंग से अध्यापन कराने के लिए जिले में हजारों पुस्तकें भेजी गई हैं। अधिगम संकेतांक मार्गदर्शिका के माध्यम से शिक्षक सर्व शिक्षा अभियान के पैटर्न से अध्यापन कराएंगे, ताकि विद्यार्थी गुणवत्तायुक्त शिक्षा प्राप्त कर सकें। कक्षा अनुरूप अधिगम प्रतिफल प्राप्त करने के लिए उच्च प्राथमिक स्तर की कक्षाओं में एसआईक्यूई की अवधारणा को आगे बढ़ाने और कक्षा छह से आठ में अधिगम संकेतांकों की पहचान करने की आवश्यकता को देखते हुए एसआईईआरटी की ओर से यह पुस्तकें तैयार की गई हैं।

 यह है उद्देश्य

अधिगम संकेतांक मार्गदर्शिका को शिक्षकों को उपलब्ध कराने के पीछे उद्देश्य यही है कि पाठ योजना बनाते समय मार्गदर्शिका में दी गई सामग्री का उपयोग हो। शिक्षक कक्षा की गतिविधि इस प्रकार निर्धारित करें कि सीखने के संकेतांक में शिक्षण स्तर अर्जित करने का लक्ष्य प्राप्त हो जाए। यह बच्चों की रुचि के अनुसार हो, ताकि वे उत्साह से शिक्षार्जन कर सकें। इसमें वर्तमान में राज्य सरकार की ओर से लागू पाठ्य पुस्तकों को आधार बनाया गया है।

इन विषयों की भेजी मार्गदर्शिका : शिक्षकों को मार्गदर्शन के लिए हिन्दी, विज्ञान, गणित, ऊर्दू, संस्कृत, अंगे्रजी, पर्यावरण आदि विषयों की पुस्तिकाएं सर्व शिक्षा अभियान को भेजी गई हैं, जो ब्लॉकवार विद्यालयों में पहुंचाई जा रही हैं। इसके अलावा कक्षा पहली से पांचवी तक के लिए लर्निंग बुक तथा बच्चों के लिए नई उमंग नामक पुस्तिकाएं भी हजारों की संख्या में भेजी गई हैं।

परशुराम जयंती की छुट्टी होने से स्कूलों के तीन और कॉलेज का एक पेपर टला

बांसवाड़ा। पहली बार परशुराम जयंती पर 18 अप्रैल को सरकारी छुट्टी घोषित के कारण स्कूल और कॉलेजों में इस दिन होने वाली परीक्षाओं को आगे खिसकाया गया है। इससे जिला समान परीक्षा कार्यक्रम के तहत चल रही कक्षा 9 और 11 के तीन विषयों और कॉलेज में भी प्रथम वर्ष का पेपर टल गया है। जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक आरपी द्विवेदी ने बताया कि कक्षा 9 और 11 की इन दिनों परीक्षाएं चल रही हैं। तय टाइम टेबल के अनुसार 18 अप्रैल को 11वीं के राजनीति विज्ञान-कंप्यूटर ऐच्छिक और गृह विज्ञान की, जबकि नौवीं कक्षा के विज्ञान के पेपर होने थे, लेकिन परशुराम जयंती पर छुट्टी होने से अब अगले सभी पेपर खत्म होने के बाद होंगे। अब 18 अप्रैल के ये पेपर 26 अप्रैल को होंगे। उधर, गोविंद गुरु जनजातीय विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक डॉ. नरेंद्र पानेरी के अनुसार 18 अप्रैल को विश्वविद्यालय की ओर से एक ही परीक्षा प्रथम वर्ष कला वर्ग के छात्र-छात्राओं की पर्यावरण अध्ययन अनिवार्य विषय की थी। यह परीक्षा अब 19 अप्रैल को होगा।

सुखाड़िया विश्वविद्यालय के परीक्षार्थी तैयारी को लेकर टेंशन में : उधर, सुखाड़िया विश्वविद्यालय की परीक्षाओं को लेकर अभी तक स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है। इससे परीक्षार्थी टेंशन में है। तृतीय वर्ष की छात्रा महिमा जोशी ने बताया कि संस्कृत द्वितीय प्रश्न-पत्र 18 अप्रैल को है। अगर छुट्टी रहेगी, तो यह पेपर कब होगा, पता नहीं चल रहा।