पोषाहार खाने विद्यालय आते हैं बच्चे और फिर लौट जाते हैं घर

Mid Day Meal
File photo

जैसे जैसे गर्मी दस्तक दे रही है वैसे वैसे इलाके में पेयजल की समस्या गहराती जा रही है। बसेड़ी इलाके के गांव जागीर बौरेली के प्राथमिक स्कूल में पेयजल के एकमात्र साधन सरकारी हैंडपंप के खराब हो जाने से नौनिहालों को पानी के लिए भारी परेशान होना पड़ रहा है। वहीं स्कूल में पानी की कमी के कारण मिड-डे मील बनाने का कार्य भी प्रभावित हो रहा है। स्कूल के शिक्षक माखन सिंह परमार ने बताया कि दो माह से हैंडपंप खराब पड़ा हुआ है। जिसके खराब होने की सूचना देने के बाद भी अभी तक समस्या का निस्तारण नहीं किया गया है। स्कूल प्रशासन के द्वारा बसेड़ी ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षाधिकारी और पीएचईडी के सहायक अभियंता कार्यालय में शिकायत करने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो सका है। जिसके चलते बच्चों को मिड-डे मील खाने के बाद पानी पीने के लिए कक्षा छोड़कर घरों को जाना पड़ता है। जिसके चलते बच्चों की पढाई प्रभावित होने के साथ अनेक बच्चे वापस स्कूल नहीं पहुंच रहे है।

डेढ दर्जन अवैध कनेक्शन कराए बंद

सरमथुरा। शनिवार को जलदाय विभाग ने उपखंड के पांच गांवों में अवैध कनेक्शनधारियों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए डेढ दर्जन पेयजल कनेक्शनों को बंद किया है। इस दौरान जलदाय विभाग ने आठ लोगों के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है। जेईएन राधेश्याम मीणा ने बताया कि शनिवार को उपखंण्ड के खिदरपुर, विदरपुर, विरजा, कछपुरा व रामबक्सपुुुरा मे अवैध पेयजल कनेक्शनों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए डेढ़ दर्जन अवैध कनेक्शनों को बंद कराया है। वहीं सुरेश गुर्जर, रामहेत जाटव, राजेश जाटव निवासी रामबक्सपुरा, नीरज शर्मा, तारा शर्मा, पप्पू शर्मा, महेश सैन, वकील सैन निवासी खिदरपुर के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है। जेईएन ने बताया कि उक्त लोगों द्वारा कई वर्षों से पेयजल लाइन को प्रभावित कर अवैध कनेक्शन किए हुए थे जिन्हे पूर्व में कई बार हिदायत तक दी गई लेकिन उक्त लोगों ने अवैध कनेक्शनों को बंद नहीं किया। इसमौके पर एएसआई राजेश सिंह, जेईएन राधेश्याम मीणा सहित विभाग के कर्मचारी मौजूद थे।

8वीं के बाद पढ़ाई छोड़ने को मजबूर बेटियां, स्कूल क्रमोन्नत नहीं

बाड़मेर। सिंगोडिया ग्राम पंचायत के रेवाली गांव की स्कूल के क्रमोन्नत नहीं होने की वजह से छात्राओं को मजबूरन पढ़ाई छोड़नी पड़ रही है। राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय रेवाली को माध्यमिक में क्रमोन्नत नहीं किए जाने के कारण इस विद्यालय से आठवीं तक पढ़ने के बाद छात्राओं को या तो 10 किलोमीटर दूर दूसरे विद्यालय में जाना पड़ता है या फिर पढ़ाई को अलविदा कहना पड़ रहा है। विद्यालय दूर होने की वजह से अधिकांश छात्राएं आठवीं के बाद पढ़ाई छोड़ने को मजबूर है। वर्तमान में इस विद्यालय में दो सौ के करीब विद्यार्थी अध्यनरत है। आसपास दस किमी के दायरे में माध्यमिक विद्यालय नहीं है। यह विद्यालय 1962 से चल रहा है लेकिन क्रमोन्नति की सूची में इसका नाम आज तक दर्ज नहीं हुआ।

स्कूल में प्रधानमंत्री का भाषण सुनाया

झालरापाटन। राजकीय उत्कृष्ट स्कूल मालीपुरा में पीएम का भाषण सुनाया गया। इस अवसर पर स्कूल के प्रधानाध्यापक प्रदीप कुमार शर्मा ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा की भारत ही वह देश है जहां नारियों को सम्मान दिया जाता है। बाबूलाल माली ने कहा की महिलाएं इस देश में इंदिरा गांधी, कल्पना चांवला जैसी महान महिलाएं हुई हैं। विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कृष्ण सिंह देथा ने कहा की महिलाओं के सम्मान से ही देश का सम्मान संभव है।

जिला स्तरीय पांचवी बोर्ड परीक्षा 5 अप्रैल से घोषित

भरतपुर। जिला स्तरीय प्राथमिक अधिगम स्तर मूल्यांकन 2018 का परीक्षा कार्यक्रम घोषित किया है। परीक्षाएं 5 अप्रैल से शुरू होंगी। परीक्षा कार्यक्रम के तहत 5 अप्रैल को हिन्दी, 7 अप्रैल को अंग्रेजी, 9 अप्रैल को गणित, 11 अप्रैल को पर्यावरण अध्ययन, 13 अप्रैल को संस्कृत (संस्कृत विद्यालयों के लिए) व उर्दू(मदरसों के लिए) की परीक्षा होगी।