पांचवीं बोर्ड की परीक्षा में सरकारी स्कूल रहे निजी से आगे

48 प्रतिशत से अधिक विद्यार्थियों के आई ए ग्रेड, सी और डी ग्रेड वालों के लिए लगेंगी अतिरिक्त कक्षाएं

जयपुर। पांचवीं बोर्ड परीक्षा में जयपुर जिले में सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों का प्रदर्शन निजी स्कूलों की अपेक्षा अच्छा रहा। सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी ए प्लस और ए ग्रेड में निजी स्कूलों से 50 प्रतिशत तक आगे रहे। हालांकि सीबीएसई से सम्बदध शहर के निजी स्कूलों के बहुत से विद्यार्थियों ने तो यह परीक्षा दी ही नहीं। पांचवीं बोर्ड परीक्षा में ए प्लस, ए, बी, सी और डी ग्रेड विद्यार्थियों को दी गई।

ए ग्रेड 48 प्रतिशत से अधिक के

जयपुर जिले में 1 लाख 23 हजार 787 विद्यार्थी पांचवीं बोर्ड परीक्षा के लिए पंजीकृत हुए। उनमें से एक लाख 20 हजार 5 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी। ए प्लस ग्रेड 4859 विद्यार्थियों ने प्राप्त की। ए ग्रेड 57 हजार 758 विद्यार्थियों के आई जो कुल विद्यार्थियों का 48.12 प्रतिशत है। बी ग्रेड 43 हजार 116 विद्यार्थियों के आई है।

लगेंगी अतिरिक्त कक्षाएं

सी और डी ग्रेड वाले विद्यार्थियों के लिए एसएसए की ओर से उपचारात्मक कक्षाएं लगाई जाएंगी। ग्रीष्मावकाश के बाद कक्षा 6 के अध्ययन के साथ ही इनके लिए ये कक्षाएं लगाई जाएंगी। गौरतलब है कि पांचवीं बोर्ड की परीक्षा में जयपुर जिले में 13 हजार 533 विद्यार्थियों के सी ग्रेड और 739 विद्यार्थियों के डी ग्रेड आई।

पुर्नगणना की मिलेगी सुविधा

प्राथमिक शिक्षा अधिगम स्तर मूल्यांकन 2018 पांचवी बोर्ड परीक्षा में विद्यार्थियों को पुर्नगणना की सुविधा मिलेगी। इच्छुक विद्यार्थी 50 रुपए प्रति विषय प्रति विद्यार्थी देकर पुर्नगणना कर सकेंगे। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, गोनेर ने इस संबंध में सभी ब्लॉक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे पुर्नगणना प्रकरणों की प्रतिविषय सूची तैयार कर 25 मई तक डाईट गोनेर को उपलब्ध कराएं। इसके बाद भेजे गए पुर्नगणना प्रस्तावों पर डाईट विचार नहीं करेगा।

सरकारी स्कूलों का प्रदर्शन रहा अच्छा

पांचवीं बोर्ड परीक्षा में सरकारी स्कूलों के बच्चों का प्रदर्शन अच्छा रहा। निजी स्कूलों की तुलना में सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों के ए प्लस और ए ग्रेड अधिक आई। परीक्षा का परिणाम भी अच्छा रहा। सिर्फ 739 विद्यार्थियों के डी ग्रेड आई। उनकी अब उपचारात्मक कक्षाएं लगाई जाएंगी।

-पदमा सक्सेना, प्रिंसिपल, डाईट, गोनेर