सेकंड ग्रेड शिक्षक भर्ती 2016 के चयनित शिक्षकों को मेरिट के अनुसार फिर से होंगे मंडल आवंटित

court case and Education

हाई कोर्ट के आदेश की पालना में सेकंड ग्रेड शिक्षक भर्ती 2016 के चयनित शिक्षकों को मेरिट के अनुसार फिर से मंडल आवंटित किए जाएंगे। इसके लिए विभाग ने प्रक्रिया शुरू कर दी है।

मेरिट के अनुसार मंडल आवंटित करने के मामलें में उच्च न्यायालय की एकलपीठ ने आदेश दिया था। माध्यमिक शिक्षा विभाग ने एकलपीठ के आदेश की अपील खंडपीठ में की थी। खंडपीठ ने अपील खारिज कर दी थी। इस प्रकार के एक मामलें में राजस्थान उच्च न्यायालय की एकलपीठ ने सेकंड ग्रेड शिक्षक भर्ती-2016 में मेरिट के अनुसार गृह मंडल में नियुक्ति देने के मामले से जुड़ी शिक्षकों की याचिकाओं का निस्तारण कर उनकी मेरिट के अनुसार मंडल आवंटित करने के आदेश दिए है।

याचिकाकर्ता शिक्षक कमलेश सैनी, कमल किशोर सैनी, मुकेश कुमार चाहर,राजेश कुमार जाट, केदार मल सैनी, चौथ मल जाट,अनिल चावला, शोभा सिंह चौधरी, तारामणि एवं अन्य की ओर से दायर याचिकाओं में एडवोकेट संदीप कलवानिया ने बताया कि आरपीएससी ने वर्ष 2016 में अलग अलग विषयों में वरिष्ठ अध्यापकों के रिक्त पदों को भरने के लिए भर्ती निकाली थी। सभी अभ्यर्थियों ने भर्ती के लिए अपने वर्ग में ऑनलाइन आवेदन किया था।

भर्ती परीक्षा के परिणाम में इनके सामान्य वर्ग के कट ऑफ अंक से ज्यादा अंक प्राप्त हुए और इनका चयन भी सामान्य वर्ग के पदों पर हुआ है। विभाग की ओर से मांगे गए विकल्प पत्र में भी इन्होंने नियुक्ति के लिए गृह मंडल की पहली वरीयता दी थी लेकिन विभाग ने मेरिट ज्यादा होने के बावजूद इन्हें नियुक्ति के लिए गृह मंडल आवंटित नही कर दूसरा मंडल आवंटित कर नियुक्ति दे दी। जबकि इनसे कम मेरिट वाले अभ्यर्थियों को गृह मंडल आवंटित कर शिक्षक पद पर नियुक्ति दे दी है।

इस पर कई अभ्यर्थियों ने उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर गुहार लगाई थी कि उन्हें मेरिट के अनुसार गृह मंडल में नियुक्ति दी जाए।

– एडवोकेट संदीप कलवानिया