अब परीक्षक सीधे अपलोड करेंगे बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम

माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर डीईओ मीटिंग कोरोना काल

बीकानेर। माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड ने इस वर्ष कोरोना संकट के चलते बोर्ड परीक्षाओं की उत्‍तरपुस्तिकाएं जांचने वाले शिक्षकों को एक नई व्‍यवस्‍था दी है, इसके तहत अब परीक्षक बोर्ड को परीक्षा परिणाम डाक के जरिए भेजने के बजाय सीधे बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड कर सकेंगे।

माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्‍यक्ष डॉ. डी पी जालौरी ने बताया कि इस माह बोर्ड की शेष रही परीक्षाओं को करवाना और उनके परीक्षा परिणाम शीघ्र जारी करना उनकी प्राथमिकता है। इसके लिए व्‍यवस्‍थाओं में कई परिवर्तन किए गए हैं, ताकि परिणामों को अधिक शीघ्र और सटीक तरीके से जारी किया जा सके।

इसके लिए प्रत्‍येक शिक्षक को मूल्‍यांकन के लिए दी जाने वाली उत्‍तरपुस्तिकाओं की संख्‍या में भी कटौती की गई है। पूर्व में जहां प्रत्‍येक शिक्षक को मूल्‍यांकन के लिए साढ़े चार सौ उत्‍तरपुस्तिकाएं प्रेषित की जाती थीं, वहीं अब इनकी संख्‍या घटाकर तीन सौ कर दी गई है।

दसवीं और बारहवीं कक्षाओं बोर्ड परीक्षाओं की उत्‍तरपुस्तिकाएं जांच रहे शिक्षक पूर्व में स्‍पीड पोस्‍ट के जरिए बोर्ड को परिणाम भेजा करते थे, इस वर्ष यह परिणाम ऑनलाइन ही अपलोड करने होंगे। इसके लिए प्रत्‍येक संबंधित शिक्षक को एक लिंक भेजा जाएगा। इस लिंक को खोलने पर शिक्षक को भेजा गया कोड भरना होगा। कोड डालने पर वेबसाइट की ओर से शिक्षक के रजिस्‍टर्ड मोबाइल पर ओटीपी जारी किया जाएगा, ओटीपी सबमिट करने के बाद ही शिक्षक परिणाम अपलोड कर पाएंगे।

यह जानकारी मंगलवार को माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड की अजमेर में राज्‍य के जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ हुई बैठक में बोर्ड अध्‍यक्ष ने दी।