ऐसे तो हजारों शिक्षक रह जाएंगे इस भर्ती से ​वंचित

अनुभव प्रमाण पत्र के लिए परेशान हो रहे निजी स्कूलों के शिक्षक, सीबीएसई स्कूलों के अनुभव प्रमाण पत्र पर अधिकारी नहीं कर रहे हस्ताक्षर

जयपुर। प्रधानाध्यापक माध्यमिक विद्यालय के पदों की भर्ती के लिए अभ्यर्थी परेशान हो रहे हैं। परेशानी का कारण हैं निजी स्कूल। निजी स्कूल उनके यहां कार्यरत कर्मचारियों को अनुभव प्रमाण पत्र नहीं दे रहे हैं, जिसकी वजह से वे इस भर्ती के लिए आवेदन नहीं कर पा रहे हैं। वहीं शिक्षा विभाग की सीबीएसई के स्कूलों को प्रमाण पत्र नहीं दे रहा है। अधिकारी अनुभव प्रमाण पत्र के लिए आने वाले शिक्षकों को टरका रहे हैं। उनका कहना है कि सीबीएसई स्कूल का अनुभव प्रमाण पत्र लेना है तो अजमेर जाओ। प्रमाण पत्र नहीं मिलने से प्रधानाध्यापक माध्यमिक विद्यालय भर्ती परीक्षा के लिए हजारों शिक्षक (Thousands of teachers) आवेदन ही नहीं कर पाएंगे।

सीबीएसई स्कूलों के शिक्षक परेशान

सबसे अधिक परेशान सीबीएसई स्कूलों के शिक्षक हो रहे हैं। उनके अनुभव प्रमाण पत्र पर जिला शिक्षा अधिकारी हस्ताक्षर नहीं कर रहे हैं। उन्हें यह कहकर टरकाया जा रहा है कि सीबीएसई का रीजनल सेंटर अजमेर में है, वहां से कराएं। वहां भी उन्हें राहत नहीं मिल रही है।

ये है परेशानी का कारण

निजी स्कूल शिक्षकों को अपनी मर्जी से ही स्कूलों में रख लेते हैं, उसके लिए शिक्षा विभाग की गाइड लाइन का पालन नहीं करते। वेतनमान भी उनके मर्जी के होते हैं। इस वजह से शिक्षा विभाग के अधिकारी उनके प्रमाण पत्रों पर हस्ताक्षर नहीं कर रहे हैं। इसके साथ ही पूर्व की परीक्षाओं में अनुभव प्रमाण पत्रों में कई फर्जीवाड़े मिले थे।

1200 पदों पर निकली भर्ती

प्रधानाध्यापक माध्यमिक विद्यालय के 1200 पदों पर अभी भर्ती निकली हुई है। विद्यार्थी भर्ती में आवेदन के लिए अनुभव प्रमाण पत्र नहीं मिलने से परेशान हो रहे हैं। इस भर्ती के लिए 5 साल का पढ़ाने का अनुभव होना जरूरी है।

ये रिकार्ड जरूरी

गैर सरकारी मान्यता प्राप्त विद्यालयों के कार्मिकों के शिक्षण अनुभव प्रमाण—पत्र पर प्रतिहस्ताक्षर कराने के लिए आवश्यक रिकार्ड व दस्तावेज चाहिए, जो स्कूल उपलब्ध ही नहीं करा रहे हैं। प्रार्थी का अनुदानित/मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान में नियुक्ति के लिए आमंत्रित किए जाने की विज्ञप्ति, प्रार्थी के शिक्षण संस्थान में नियुक्ति के आदेश की प्रति, शिक्षण संस्थान में उपस्थिति रजिस्टर जिसमें प्रार्थी के हस्ताक्षर हों, जिस कक्षा में अध्यापन कराया गया हो उसका परीक्षा परिणाम, रोकड़ बही जिसमें प्रार्थी का भुगतान किए गए मासिक वेतन का इंद्राज हो, वेतन भुगतान रजिस्टर की प्रति, प्रार्थी व संस्था द्वारा अनुभव सही होने का शपथ पत्र देना होगा।